हिन्दी (बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र)

1.   निम्नलिखित में से कौनसी बहुबुद्धि सिद्धान्त की आलोचना है?
(1)  बहुबुद्धि केवल प्रतिभाएं हैं, जो पूर्ण रूप से बुद्धि में विद्यमान रहती हैं
(2) बहुबुद्धि शिक्षार्थियों को अपने रूझान को खोजने में मदद उपलब्ध कराती है
(3) यह व्यावहारिक बुद्धि पर आवश्यकता से अधिक बल देती है
(4) यह आनुभविक साक्ष्यों को बिल्कुल भी समर्थन नहीं दे सकता


2.    निम्नलिखित में से कौन-से युग्म के सही होने की सम्भावना
सबसे कम है?
(1)  बच्चे भाषा के बारे
में निश्चित ज्ञान- चाॅम्स्की के साथ प्रवेश करते है।
(2) भाषा और विचार प्रारम्भ में दो-वाइगोत्सकी
भिन्न गतिविधियां है। 
(3) भाषा विचार पर आधारित है- पियाजे 
(4) भाषा वातावरण में एक उद्दीपक है – बी.एफ.
स्किनर
3.   सामाजिक
भूमिकाओं के कारण न कि जीव वैज्ञानिक सम्पत्ति के कारण सौंपी गई विषिष्टताएं
……. कहलाती हैं-
(1) जेंडर भूमिका अभिवृत्ति
(2) जेंडर भूमिका दबाव
(3) जेंडर भूमिा रूढि़बद्धता
(4) जेंडर भूमिा नैदानिकी   
4.   निम्नलिखित में से कौनसा अधिगम को अधिकतम करने के लिए सर्वाधिक उचित है
(1)
शिक्षिका
को अपनी संज्ञानात्मक शैली के साथसाथ अपने शिक्षार्थियों की संज्ञानात्मक शैली की पहचान करनी चाहिए।
(2)
शिक्षार्थियों में वैयक्तिक भिन्नता को सहज बनाने के लिए समान शिक्षार्थियों के जोड़
बनाए जा सकते हैं।
(3)
अधिकतम परिणाम लाने के लिए शिक्षक केवल एक अधिगम शैली पर ध्यान केन्द्रित करता है।
(4)
समान सांस्कृतिक पृष्ठभूमि वाले शिक्षार्थियों को एक कक्षा में रखना चाहिए ताकि मत
वैभिन्न्य से बचा जा सके
5.   …….के अतिरिक्त निम्नलिखित सभी सीखने के रूप में आकलन को बढ़ावा देते हैं
(1) शिक्षार्थियों को आन्तरिक पृष्ठपोषण लेने के लिए कहना
(2) अवसर लेने हेतु शिक्षार्थियों के लिए एक सुरक्षित वातावरण का निर्माण करना
(3) पढ़ाए गए विषय पर मनन करने के लिए शिक्षार्थियों को कहना
(4) जितनी सम्भावना हो शिक्षार्थियों को लगातार परीक्षण लेना
6.   जब एक बावर्ची खाना पकाते समय खाने को चखता है तो वह…………..के समान है
(1) सीखने का आकलन
(2) सीखने के लिए आकलन
(3) सीखने के रूप में आकलन
(4) आकलन और सीखना
7.   अन्तरपरक अनुदेशन है
शिक्षार्थियों की आवष्यकताओं को पूरा करने के लिए समूहीकरण के विविध रूपों का प्रयोग करना
कक्षा में प्रत्येक शिक्षार्थी के लिए कुछ अलग करना
अव्यवस्थित अथवा स्वच्छन्द शिक्षार्थी गतिविधियां
ऐसे समूहों का प्रयोग जो कभी नहीं बदलते
8.   सांस्कृतिक तथा भाशिक रूप से वैविध्यपूर्ण कक्षा में यह निष्चित करने से कि शिक्षार्थी विशिश्ट शिक्षावर्ग में आता है या नहीं, एक शिक्षक को करना चाहिए।
(1) मातापिता को इसमें सम्मिलित नहीं करना चाहिए क्योंकि उनके पास अपना कार्य होता है
(2) अक्षमता स्थापित करने से पहले शिक्षार्थि की मातृभाशा का मूल्यांकन करना चाहिए
(3) पारंगत मनोविज्ञानियों का उपयोग
(4) वातावरणीय कारकों को अप्रभावी बनाने के लिए बच्चे को अलग कर देना चाहिए
9.   निम्नलिखित में से ……………….. के अतिरिक्त सभी के कारण अधिगम अक्षमता उत्पन्न हो सकती है
(1) शिक्षक की शिक्षणशैली
(2) जन्म से पहले मां द्वारा मदिरासेवन
(3) मन्दबुद्धिता
(4) शैशवकाल में समय दिमागी बुखार
10. एक समावेषी विद्यालय…………….. के अतिरिक्त निम्नलिखित सभी प्रष्नों पर मनन करता है
(1) क्या हम यह विष्वास करते हैं कि सभी शिक्षार्थी सीख सकते हैं
(2) क्या हम अधिगमयोग्य परिवेष की योजना बनाने और उसे प्रदान करने के लिए समूह में कार्य करते हैं
(3) क्या हम विशेश बालक को बेहतर देखभाल उपलब्ध कराने के लिए उचित तरीके से उन्हें सामान्य  से अलग करते हैं
(4) क्या हम शिक्षार्थियों की विविध आवष्यकताओं को पूरा करने के लिए युक्तियां अपनाते हैं

KVS Mahapack

  • Live Class
  • Video Course
  • Test Series
ssc logo

SuperTET Mahapack

  • Live Class
  • Video Course
  • Test Series
indian-railways logo