अनेक शब्दों (पदों) के लिए एक शब्द (पद)

वाक्यखण्ड                              एक शब्द 

जिसके पाणि (हाथ) में चक्र है                            चक्रपाणि (विष्णु)
जिसके चार भुजाएं हैं                                       चतुर्भुज
जिसके समान द्वितीय नहीं है                          अद्वितीय
जिसके पार देखा जा सके                                  पारदर्षक

जानने की इच्छा                                              जिज्ञासा
जो भू को धारण करता है                                   भूधर
जिसके दो (पैर) हैं                                            द्विपद
जिसके चार पद हैं                                            चतुष्पद
जिसका कोई नाथ न हो                                     अनाथ
जिसे ईष्वर या वेद में विष्वास है                         आस्तिक
जिसका कोई शत्रु नहीं जनमा है                         अजातषत्रु
जल में जन्म लेने वाला                                    जलज
जिसका निवारण नहीं किया जा सके                  अनिवार्य
साहित्य-रचना या साहित्य-सेवा से सम्बद्ध          साहित्यिक
जिसकी उपमा न हो                                         अनुपम
जो कहा न जा सके                                           अकथनीय
जो सब कुछ जानता है                                      सर्वज्ञ
जो किये गये उपकारों को मानता है                     कृतज्ञ
नहीं मरने वाला                                                अमर
जो अच्छे कुल में उत्पन्न हुआ है                         सर्वव्यापी
जो बहुत बोलता है                                            वाचाल
इन्द्रियों को जीतने वाला                                    जितेन्द्रिय
जो युद्ध में स्थिर रहता है                                   युधिष्ठिर
जो क्षमा पाने लायक है                                     क्षम्य
जो अत्यन्त कष्ट से निवारित किया जा सके        दुर्निवार

KVS Mahapack

  • Live Class
  • Video Course
  • Test Series
ssc logo

SuperTET Mahapack

  • Live Class
  • Video Course
  • Test Series
indian-railways logo